जिस गुफा में पीएम मोदी ने की साधना वह चार धाम यात्रा टूर पैकेज में होगी शामिल

0
190
The cave in which PM Modi will be involved in the sadhana he will be in the Char Dham Yatra Tour Package
The cave in which PM Modi will be involved in the sadhana he will be in the Char Dham Yatra Tour Package

देहरादून, जेएनएन। केदारनाथ धाम की ध्यान गुफा में प्रधानमंत्री नरेंद्र की साधना के बाद गढ़वाल मंडल विकास निगम (जीएमवीएन) के अफसर उत्साहित हैं। वजह यह कि देश के विभिन्न इलाकों से लोग गुफा के बारे में जानकारी मांग रहे हैं। इसे देखते हुए निगम ने गुफा की ऑन लाइन बुकिंग का निर्णय ले लिया है, साथ ही इसे टूर पैकेज में भी शामिल किया जाएगा। इसके लिए अलग से स्टाफ तैनात करने की योजना बनाई जा रही है। गुफा में ठहरने के लिए एक दिन का शुल्क 990 रुपये रखा गया है और एक बार में अधिकतम तीन दिन की बुकिंग कराई जा सकती है।

इस गुफा को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट केदारनाथ पुनर्निर्माण के तहत तैयार किया गया है। केदारनाथ मंदिर से महज 1.5 किलोमीटर दूर गुफा चौराबाड़ी ग्लेशियर को जाने वाले रास्ते पर है। पहाड़ी शैली में तैयार की गई गुफा के निर्माण पर साढ़े आठ लाख रुपये की लागत आई है।

जीएमवीएन के महाप्रबंधक (पर्यटन) बीएल राणा ने बताया कि लोगों में इस कदर उत्साह है कि सिर्फ दो दिन में डेढ़ सौ से ज्यादा लोग गुफा के बारे में जानने को फोन कर चुके हैं। उन्होंने बताया कि गुफा को निगम अपने चार धाम यात्रा टूर पैकेज में शामिल करेगा। गुफा की ब्रांडिंग के लिए भी योजना बनाई जा रही है। इसके लिए योग महोत्सव आयोजित करने पर विचार किया जा रहा है। इसके अलावा केदारनाथ में चार और गुफाओं को तैयार करने की कवायद भी शुरू कर दी गई है।

कितने रुपये होंगे खर्च

पीएम मोदी ने जिस गुफा में योग-साधना की वहां जाने का मन तो आपने बना ही लिया है। अब बात आती है इसमें खर्च कितना होगा। बता दें कि अगर आप इस गुफा को बुक करना चाहते हैं तो जीएमवीएन आपसे प्रतिदिन 990 रुपये किराया लेगा। इसके साथ ही यह भी बता दें कि कोई भी पर्यटक गुफा को 3 दिन से ज्यादा समय के लिए बुक नहीं करवा सकता। अगर आप चाहते हैं कि आप इससे ज्यादा समय तक इस गुफा में रहें तो आपको इसके लिए नए सिरे से अनुमति की औपचारिकताएं पूरी करनी पड़ेगी। ध्यान रहे कि गुफा में एक समय में सिर्फ एक ही इंसान ध्यान लगाने जा सकेगा। एक बार बुकिंग हो जाने के बाद पैसा रिफंड नहीं किया जाएगा, भले ही आप गुफा में रहना चाहें या न चाहें।

फिट होंगे तभी गुफा में जा पाएंगे

अगर आप यहां जाने का प्लान बना रहे हैं तो बता दें कि इसके लिए आपको शारीरिक तौर पर पूरी तरह से स्वस्थ होना पड़ेगा। मेडिकल जांच के बाद ही आपको इस गुफा में योग-ध्यान करने के लिए अनुमति मिलेगी। जीएमवीएन ने ध्यान गुफा की बुकिंग कराने वालों के लिए गुप्तकाशी में मेडिकल कराने की सुविधा मुहैया कराई है। अगर आप इस गुफा में योग-ध्यान करना चाहते हैं तो आपको ऑनलाइन बुकिंग के बाद यात्रा से दो दिन पहले ही गुप्तकाशी में मेडिकल जांच करानी होगी।

अब बात गुफा में सुविधाओं की

इस ध्यान गुफा में बिजली और पानी की मूलभूत सुविधा तो है ही। इसके अलावा सुबह की चाय, ब्रेक फास्ट, दिन में लंच, शाम की चाय और डिनर भी उपलब्ध कराया जाएगा। यही नहीं चौबीसों घंटे जीएमवीएन का स्टाफ गुफा में सेवा देने को तैयार रहेगा। इसके लिए लोकल फोन की व्यवस्था भी दी गई है।

एक नहीं चार और गुफाएं होंगी तैयार 

केदारनाथ धाम में चार प्राचीन गुफाएं जीर्ण-शीर्ण हालत में हैं। इन गुफाओं में भी निगम जिला प्रशासन की मदद से सुधार कार्य कराएगा। इसमें प्राचीन स्वरूप को बरकरार रख वहां पर सुविधाएं जुटाई जाएंगी। गरुड़ चट्टी से लेकर गांधी सरोवर के बीच यह गुफाएं बनाई जाएंगी।

कैसे पहुंचे गुफा तक

रुद्र मेडिटेशन केव तक पहुंचने के लिए आपको वही रास्ता चुनना है जो रास्ता केदारनाथ पहुंचने के लिए है। यहां जाने के लिए आप हवाई जहाज से देहरादून स्थित जॉलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंच सकते हैं। यहां से हेलिकॉप्टर और सड़क मार्ग के जरिए भी केदारनाथ पहुंचा जा सकता है। इसके अलावा ट्रेन से हरिद्वार पहुंचने के बाद यहां सड़क मार्ग के जरिए केदारनाथ पहुंच सकते हैं। केदारनाथ मंदिर से इस गुफा की दूरी मजह 1.5 किलोमीटर है और यहां तक आपको पैदल ही जाना होगा।

Source:-https://www.jagran.com/uttarakhand/dehradun-city-kedarnath-meditation-cave-will-be-included-in-gmvns-tour-package-jagran-special-19245121.html

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here