घोड़े पर चलने वाले 1 लाख के इनामी बदमाश भंवर सिंह को हरियाणा पुलिस ने गुरुग्राम में ठोंका

0
371
BHANWAR-SINGH-CRIMINAL
BHANWAR-SINGH-CRIMINAL

दिनांक 18.09.2018 को दिन मे लगभग 12 बजे क्राइम यूनिट पालम विहार गुरुग्राम के प्रभारी निरीक्षक मनोज वर्मा को एक गुप्त सूचना मिली कि गाँव मानेसर के रहने वाले कुख्यात बदमाश भँवर सिंह उर्फ भूदेव अपने एक अन्य साथी रवीन्द्र उर्फ काले के साथ गाँव सहरावन की ढ़ानी के पास एक कोठड़े मे बैठकर शराब आदि पी रहे हैं। इस सूचना पर क्राइम टीम ने उपरोक्त स्थान पर जाकर उस कोठड़े को घेर लिया तथा अंदर बैठे लोगों को पुलिस पार्टी द्वारा अपने सामने समर्पण के लिए बार-बार कहा। अंदर बैठे युवकों ने बाहर आने की बजाय पुलिस पार्टी पर फ़ाइरिंग शुरू कर दी। बचाव मे पुलिस पार्टी ने भी फायर किए। इसी बीच एक बदमाश रवीन्द्र उर्फ काले पुलिस पार्टी पर फायर करते हुए भाग गया। दूसरा बदमाश अंदर से लगातार पुलिस पार्टी पर फायर करता रहा। पुलिस पार्टी द्वारा अपने बचाव मे की गई फ़ायरिंग मे वह घायल हो गया था। बड़ी सावधानी पूर्वक पुलिस पार्टी ने घायल बदमाश को काबू किया तथा तुरंत IMT मानेसर मे स्थित रॉकलैंड हॉस्पिटल पहुंचाया जहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था।

इस मुठभेड़ मे पुलिस द्वारा कुल 6 राउंड फायर हुए तथा बदमाशों की तरफ से भी दर्जन से अधिक फायर हुए थे। मौके से कुल दो पिस्टल व कारतूस तथा एक मोटरसाइकल भी बरामद हुई है।

भँवर सिंह उर्फ भूदेव का अपराधिक रिकार्ड रहा है तथा इस पर संगीन अपराधों के लगभग एक दर्जन मुकदमे दर्ज थे। थाना मानेसर, सदर गुरुग्राम के अतिरिक्त दिल्ली व हिसार मे भी इसके विरुद्ध मामले दर्ज थे जिनमे हत्या, लूट, पुलिस पर जानलेवा हमला करना, जबरन उगाही आदि के मामले थे।

यह एक आदतन अपराधी था तथा पुलिस पार्टी पर भी जानलेवा हमला करने से नहीं कतराता था। इसने कई बार पुलिस पार्टी पर भी जानलेवा हमला किया था।

इसकी उम्र लगभग 35 वर्ष थी तथा यहा पिछले लगभग 10 साल से अपराध की दुनियाँ मे सक्रिय था। लगातार संगीन अपराध करके इसने इलाके मे खौफ बना रखा था। यह मानेसर गाँव का निवासी था तथा शादीशुदा है और इसके 2 बच्चे भी हैं। गाँव से ही इसने दसवीं कक्षा तक पढाई की थी। यह भी ज्ञात हुआ है कि यह बदमाश घुड़सवारी का भी शौकीन था। कुछ साल पहले एक्सिडेंट मे इसके पैर मे चोट लग गई थी जिसके कारण यह लंगड़ाता था।

दिनांक 14.08.2018 को इसने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर HSIIDC विभाग के पटवारी श्री ईश्वर सिंह की मानेसर गाँव के पास गोली मारकर उस समय हत्या कर दी थी जब विभाग के कुछ कर्मचारी सरकारी जमीन पर काम करवा रहे थे। इस हमले मे सरकारी गाड़ी का चालक भी इनके द्वारा चलाई गई गोलियों से गंभीर रूप से घायल हो गया था। इस बारे थाना मानेसर मे मामला दर्ज किया गया था। हरियाणा पुलिस द्वारा इसकी गिरफ्तारी पर एक लाख रुपए ईनाम की घोषणा थी।

Source:-http://haryanaabtak.com/featured/most-wanted-criminal-bhanwar-singh-killed-by-gurugram-police/

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here