रोटी बैंक की वैन देख गरीबों को नजर आई आशा की किरण, पुलिसकर्मियों ने अपने हाथों से कराया भोजन

0
78
पहले दिन 200 से ज्यादा गरीबों को भर पेट कराया भोजन
-ढालियावास चौक, प्रजापति चौक व राव कर्नल रामसिंह चौक पर बनी झुग्गी में पहुंची वैन
-पुलिसकर्मियों के घर से 2-2 रोटी व सब्जी एकत्रित कर बांटी गई
-गरीबों ने पुलिस के प्रयास की जमकर की तारीफ
शनिवार दोपहर करीब 12:30 बजे, स्थान बाईपास स्थित प्रजापित चौक और वहां बनी झुग्गियों के सामने खड़ी आशा की किरण रोटी बैंक वैन। वैन में बैठे पुलिसकर्मियों को देखते ही गरीबों की खुशी का ठीकाना नहीं रहा। पुलिसकर्मियों ने अपने हाथों से गरीबों को खाना खिलाया और उन्हें रोजाना इसी तरह भर पेट भोजन कराने के साथ-साथ उनकी सुरक्षा करने का आश्वासन दिया। शनिवार को रोटी बैंक की वैन ने कई स्थानों पर बनी झुग्गियों के पास पहुंचकर करीब 210 जरूरतमंद गरीबों को भोजन कराया।
रेवाड़ी साउथ रेंज के एडीजीपी श्रीकांत जाधव व एसपी राजेश दुग्गल का सपना था कि कोई अपना न रह जाए भूखा और इसे अमलीजामा पहनाने के लिए कुछ दिन पहले ही प्रयास शुरू हुए ओर साउथ रेंज रेवाड़ी के एडीजीपी श्रीकांत जाधव के मार्गदर्शन में महज कुछ दिनों में ही इस कार्य को मुकाम तक पहुचाया गया है। शुक्रवार को एसपी राजेश दुग्गल ने पुलिस लाईन में रोटी बैंक का शुभारंभ किया था। इसके लिए बकायदा पुलिस के एक वाहन को रोटी बैंक वैन के रूप में तैयार किया गया। इसके अलावा स्टाफ भी नियुक्त किया गया। शनिवार को यह वैन पुलिस लाईन के हर क्वार्टर में घूमती नजर आई। हर घर से 2 रोटी एकत्रित की गई ओर पुलिस लाइन में ही सब्जी बनवाकर रोटी और सब्जी को एकत्रित कर वितरित करने के लिए यह वैन शहर में निकल पड़ी। सबसे पहले प्रजापति चौक पर बनी झुग्गियों में यह वैन पहुंची और यहां दर्जनों को जरूरतमंद गरीबों को भर पेट भोजन पुलिसकर्मियों ने अपने हाथों से कराया। उसके बाद राव कर्नलराम सिंह चौक व ढालियावास चौक पर बनी झुग्गी-झोपड़ी में वैन ने पहुंचकर गरीबों को खाना वितरित किया। इस दौरान झुग्गी में मौजूद गरीबों ने पुलिस की जमकर तरीफ की।
पहली बार देखी ऐसी इंसानियत
प्रजापति चौक के निकट झुग्गी में रहने वाले जरूरतमंद व बेहद गरीब रामेश्वर शहर में कूड़ा एकत्रित करने का काम करता है। दो जून की रोटी के लिए उसे पूरे दिन मुंह ताकना पड़ता था। शनिवार को जैसे ही रोटी बैंक की वैन उसकी झुग्गी के पास पहुंची तो उसकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। रामेश्वर ने कहा कि उन्होंने पहली बार इंसानियत का ऐसा रूप देखा है। रेवाड़ी पुलिस ने गरीबों के लिए शुरू की यह रोटी बैंक की वैन उनके लिए वरदान है। उन्होंने एडीजीपी श्रीकांत जाधव व एसपी राजेश दुग्गल का धन्यावाद किया।
  • Source:-https://www.bharatsarthi.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here