तिरुपति बालाजी मंदिर को गुरुवार को मिला सबसे बड़ा दान, 2000 साल के इतिहास में बना नया रिकॉर्ड

0
178
Tirupati Balaji Temple's biggest donation received on Thursday, new record made in 2000 year history
Tirupati Balaji Temple's biggest donation received on Thursday, new record made in 2000 year history

तिरुपति बालाजी के देशभर में करोड़ों श्रद्धालु हैं, देश के अलग-अलग कोने से लोग यहां हजारों किलोमीटर की यात्रा कर दर्शन के लिये आते हैं।

New Delhi, Jul 28 : तिरुपति बालाजी में हर दिन करोड़ों रुपये दान में आते हैं। यहां भगवान वेंकटेश्वर के विश्व प्रसिद्ध मंदिर में लोग दूर-दूर से दर्शन करने आते हैं, और मंदिर के हुंडी (दानपात्र) में दान देकर जाते हैं। मंदिर के दो हजार साल के इतिहास में गुरुवार को सबसे ज्यादा दान का रिकॉर्ड बना। रिपोर्ट के अनुसार गुरुवार को दानपात्र से 6.28 करोड़ रुपये दान से जमा हुए। आपको बता दें कि इससे पहले इतनी रकम आज तक जमा नहीं हुई थी।


बना रिकॉर्ड
मंदिर प्रबंधन ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि इस मंदिर के इतिहास में इससे पहले एक दिन में सबसे ज्यादा दान आने का रिकॉर्ड 5.73 करोड़ रुपये का था, जो साल 2012 में रामनवमी के आयोजन पर दर्ज किया गया था। तब से इस आंकड़े को कोई पार नहीं कर पाया था। लेकिन गुरुवार को सारे रिकॉर्ड धाराशायी हो गये और दान आने का नया रिकॉर्ड 6.28 करोड़ रुपये हो गया।

Khatu Shyam Bhajan 2017 – Sanwali Surat Pe Mohan

औसत चढावा
मंदिर प्रबंधन ने बताया कि यहां रोजाना हजारों श्रद्धालु दर्शन के लिये पहुंचते हैं, लोग यहां अपनी मुराद मांगते हैं, जिनकी मुराद भगवान पूरी करते हैं, वो दुबारा दर्शन करने आते हैं, तो अपनी श्रद्धा अनुसार कुछ दान भी देकर जाते हैं। मंदिर में लगे दानपात्र से रोजाना 2.5 से 3.5 करोड़ रुपये तक का दान प्राप्त होता है, कोई खास अवसर या दिन होने पर श्रद्धालुओं की संख्या बढती है, तो दान में आने वाली राशि भी बढ जाती है।

करोड़ों श्रद्धालु
आपको बता दें कि तिरुपति बालाजी के देशभर में करोड़ों श्रद्धालु हैं, देश के अलग-अलग कोने से लोग यहां हजारों किलोमीटर की यात्रा कर दर्शन के लिये आते हैं। मंदिर प्रबंधन दान में मिलने वाली राशि से ट्रस्ट चलाती है, जिसके बच्चियों की शिक्षा और लोगों के उत्थान के लिये खर्च किया जाता है। हर महीने प्रबंधन को सिर्फ चढावे के रुप में औसतन 65-70 करोड़ रुपये आ जाते हैं।

बता मेरे यार सुदामा रे 2017 का सुपरिहट भजन part -1

किसी ने गुप्त दान किया
माना जा रहा है कि गुरुवार को दानपात्र से निकले दान की रकम के 6.28 करोड़ रुपये तक पहुंचाने में किन्ही एक या दो श्रद्धालुओं की ओर से जमा कराई गई रकम जिम्मेदार है। किसी शख्स ने गोपनीय तरीके से लाखों रुपये दान पात्र में डाल दिया, जिसकी वजह से ये रकम यहां तक पहुंच गई। आपको बता दें कि इस मंदिर में दानपात्र में गुप्त दान का ये पहला मामला नहीं है, कई बार लोग सोने के आभूषण, पैसे और कीमती चीजें यहां रखकर बिना बताये चले जाते हैं।

Source:-https://indiabeyondnews.com/interesting/tirupati-balaji-temple-record-donation-0718/

More Stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here