इस कारण पूरे देश में गोलगप्पे होने जा रहे हैं बंद, इस शहर से हो चुकी है शुरुआत

0
197
This is why Golgappa is going to be closed all over the country, this city has started off.
This is why Golgappa is going to be closed all over the country, this city has started off.

वड़ोदरा में खुले में बिकने वाली खाद्य सामाग्रियों का सैम्पल भरा गया, जिसमें जांच के बाद पाया गया, कि गोलगप्पों में इस्तेमाल होने वाले पानी दूषित होते हैं।

शायद ही ऐसा कोई इंसान होगा, जिसे गोलगप्पे ना पसंद हो, खासकर लड़कियों को तो ये कुछ ज्यादा ही पसंद आता है। गोलगप्पों को देश के अलग-अलग हिस्सों में अलग-अलग नाम से जाना जाता है। इसका नाम सुनते ही कई लोगों के मुंह में पानी आ जाता है, लेकिन वड़ोदरा में गोलगप्पों के नाम से ही लोगों को डर लगने लगा है। दरअसल गुजरात के इस शहर में गोलगप्पों पर बैन लगा दिया गया है।


मिलावट की शिकायत
मौसमी बीमारियों से बचने के लिये गुजरात स्वास्थ्य विभाग ने खाने-पीने की दुकानें और खुले में बिकने वाली खाद्य पदार्थो के सेम्पल लिये थे। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने अगले आदेश तक वड़ोदरा में गोलगप्पों की बिक्री पर पूरी तरह से रोक लगाया दिया है। आपको बता दें कि गोलगप्पों में इस्तेमाल किये जाने वाले आलू और मसालों में रसायनों की मिलावट की शिकायत मिली थी, जिसके बाद ये फैसला लिया गया है।


पहले से तैयारी में जुटी है सरकार
मालूम हो कि गुजरात में मानसून की मार के बाद कई जिले बाढ जैसे हालात का सामना कर रहे हैं, सरकार आपदा से निपटने के साथ-साथ दूसरी चीजों में भी जुट गई है। स्वास्थ्य विभाग मौसमी बीमारियों से लड़ने के लिये पहले ही तैयारी कर रही है। शहरों में फैल रही गंदगी की वजह से डेंगू, चिकनगुनिया, पीलिया, मलेरिया जैसी बीमारियों की शिकायत मिल रही है, इन्हीं बीमारियों से निपटने के लिये स्वास्थ्य विभाग ने खाद्य पदार्थो की गुणवत्ता पर अपना ध्यान केन्द्रित किया है।

त्योहारों के मौसम में बनाएं सिंघाड़े का हलवा

महिलाओं-बच्चों को पसंद
वड़ोदरा में खुले में बिकने वाली खाद्य सामाग्रियों का सैम्पल भरा गया, जिसमें जांच के बाद पाया गया, कि गोलगप्पों में इस्तेमाल होने वाले पानी दूषित होते हैं, उसका सेवन करने से लोग बीमारियों की चपेट में आ सकते हैं, इसी वजह से इस शहर में इसकी बिक्री पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया गया है।

 

स्वास्थ्य से खिलवाड़
स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि खुले में खाद्य पदार्थ बेचने वाले आम लोगों के स्वास्थ्य से खिलावाड़ कर रहे हैं। वो सड़े हुए आलू का इस्तेमाल कर रहे हैं, साथ ही पानी को चटकारा बनाने के लिये उसमें केमिकल डाल रहे हैं। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने हर इलाके में छापेमारी कर सैम्पल लिये और गोलगप्पों की बिक्री पर पूरी तरह से बैन लगा दिया। अधिकारी ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम ने अहमदाबाद, राजकोट और सूरत में भी खान-पान की दुकानों और ठेलों पर कार्रवाई की है, लेकिन वड़ोदरा की स्थिति बहुत खराब है।

Source:-https://indiabeyondnews.com/viral/golgappa-ban-in-vadodara-0718/

More News

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here