देश प्रेम की बड़ी मिसाल, पति ने दी देश के लिए कुर्बानी, अब पत्नी ने ज्वाइन की सेना

0
710

चंडीगढ़: हरियाणा वीरों से भरा है जहाँ के अनगिनत जवान देश पर कुर्बान हो गए और प्रदेश के हजारों जवान अब भी देश की सीमाओं पर तैनात हैं। अब हरियाणा की एक वीरांगना की खबर पढ़ आ भावुक हो सकते हैं। आपको मालुम हो कि सेना में मेजर रहते हुए देश के लिए शहीद होने वाले जवान की पत्नी ने भी पति के नक्शेकदम पर चलने की ठान ली, जबकि उसे हरियाणा सरकार ने सरकारी नौकरी का ऑफर भी दिया था। पति की शहादत के बाद उस पर एक मासूम से बेटे की जिम्‍मेदारी भी थी, लेकिन इस वीरांगना ने सरकारी नौकरी का ऑफर ठुकरा दिया और पति की राह पर चल पड़ी। दरअसल दो साल पहले मणिपुर में उग्रवादियों से मुठभेड़ के दौरान मेजर अमित देशवाल शहीद हो गए थे, इनकी पत्नी नीता देशवाल ने ही देशप्रेम की यह गजब मिसाल दी है। नीता को भी सेना में कमिशन मिला जिन्होंने चेन्नई में पासिंग आउट परेड में हिस्सा लिया।

झज्जर जिले के सुरेहती गांव के मेजर अमित देशवाल अप्रैल 2016 में मणिपुर में उग्रवादियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हो गए थे। उन्हें अदम्य साहस के लिए मरणोपरांत सेना मेडल से भी अलंकृत किया जा चुका है। इनकी पत्नी नीता देशवाल चेन्नई में पासिंग आउट परेड में शामिल हुई। पति अमित देशवाल की शहादत के बाद हरियाणा सरकार ने लेडी कैडेट नीता देशवाल को सरकारी नौकरी का ऑफर दिया था, लेकिन उन्होंने पति के नक्शेकदम पर चलने के लिए यह ऑफर ठुकरा दिया।

दो माह बाद ही वह झज्जर से दिल्ली चली गईं। उन्होंने वहां सर्विस सेलेक्शन बोर्ड की तैयारी शुरू की। नवंबर 2016 में आर्मी सेलेक्शन सेंटर भोपाल ने उन्हें सेना के शॉर्ट सर्विस कमिशन के लिए चुना। उन्हें यह पोस्ट सैन्य विधवाओं के लिए आरक्षित कोटे के तहत मिली थी। सेना में कमिशन मिलने से पूर्व नीता देशवाल ने कहा कि वह पति के अधूरे कार्यों को पूरा करना चाहती हैं। इसीलिए उन्होंने अपने पति के पहले प्यार सेना को अपनाया।

Source:-http://haryanaabtak.com/featured/mejor-amit-deshwal-wife-join-army/

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here