पूर्व डिप्टी मेयर दुष्कर्म मामले में बरी

0
206
जासं, गुरुग्राम: अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश रजनी यादव की अदालत ने पूर्व डिप्टी मेयर परमिंदर

जासं, गुरुग्राम: अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश रजनी यादव की अदालत ने पूर्व डिप्टी मेयर परमिंदर कटारिया को दुष्कर्म के आरोप से मुक्त कर दिया।परमिंदर कटारिया के खिलाफ उनके कार्यालय में ही काम करने वाली एक महिला ने 24 अक्टूबर 2015 को आरोप लगाया था। आरोप था कि शादी का झांसा देकर उसके साथ दुष्कर्म किया गया।  परमिंदर  कटारिया के ऊपर पीड़िता द्वारा लगाए गए आरोप साबित नहीं हुए। इस आधार पर आरोपी को बरी कर दिया गया। दैनिक जागरण से बातचीत में परमिंदर  कटारिया ने कहा कि आरोप की वजह से उनका राजनीतिक व सामाजिक जीवन तबाह हो गया। उन्होंने लोगों के बीच आना-जाना बंद कर दिया था। उन्हें अदालत के ऊपर पूरा विश्वास था। अदालत के फैसले ने दूध का दूध व पानी का पानी कर दिया। बता दें कि परमिंदर  कटारिया के ऊपर आरोप डिप्टी मेयर रहते लगा था। बदनामी की वजह से इस बार नगर निगम का चुनाव तक वे नहीं लड़ पाए।

By Jagran 
Source:-http://2inspirelife.net/dainik-jagran-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here