गुजरात विधानसभा चुनाव में उम्मीदवारों का अकाल

0
92

नेशनल डेस्क: गुजरात विधानसभा चुनाव में उम्मीदवारों का अकाल है। एक तरफ यूपी और बिहार विधानसभा चुनाव में जहां उम्मीदवारों की भीड़ 5 हजार तक पहुंच जाती है वहीं गुजरात विधानसभा चुनाव में बीते 45 वर्षों से उम्मीदवारों की अधिकतम संख्या 1666 है। जबकि यूपी में हुए बीते विधानसभा चुनाव में 4853 उम्मीदवारों ने भाग्य आजमाया था। इससे यह कहना गलत नहीं होगा कि गुजरात के निर्वाचन क्षेत्रों में कभी भी उम्मीदवारों की ज्यादा भीड़ नहीं रही। पिछले 55 साल से यहां प्रत्येक चुनाव क्षेत्र में 6 से 7 उम्मीदवारों के बीच ही मुकाबला होता आया है। गुजरात में जब पहला चुनाव हुआ था तो उसके सामने कोई बड़ा प्रतिद्वंदी नहीं था जिसके कारण उसे 50.8 फीसदी वोट मिले थे। उस समय राम राज्य परिषद, सोशलिस्ट पार्टी और जनसंघ ही विपक्ष में मौजूद है।

गुजरात में केवल बीजेपी व कांग्रेस
गुजरात में कभी तीसरे मोर्चे को जगह नहीं मिली। हालांकि गुजरात का जब पहला चुनाव 1962 में हुआ तो उस समय जनसंघ ने केवल 26 उम्मीदवार उतारे। हालांकि 1990 में उम्मीदवारों की संख्या 1,889 रही वहीं 1995 में यह बढ़कर 2,545 उम्मीदवार मैदान में उतरे। 1990 से 1995 तक सत्ता में रहने वाली जनता दल को 1995 चुनाव में एक भी सीट नहीं मिली। हद तो यह हो गई कि 115 में से 109 सीटों पर उसके उम्मीदवारों की जमानत तक जब्त हो गई। इसके बाद से राज्य में सिर्फ दो पार्टियों के बीच ही मुकाबला रहा है।

गुजरात में सिर्फ 2.6 फीसदी उम्मीदवार
यूपी में हुए विधानसभा चुनाव में 4853 उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ा। वहीं 2015 में बिहार चुनाव में 3450 उम्मीदवार उतरे थे। 2014 में हुए आन्ध प्रदेश चुनाव में 3910 उम्मीदवारों के बीच चुनाव हुआ। गुजरात में यूपी के 4.19 और बिहार के 5.52 उम्मीदवारों के मुकाबले औसतन प्रति सीट 2.6 स्वतंत्र उम्मीदवार ही उतरते हैं। पिछले चुनावों में केशूभाई पटेल की परिवर्तन पार्टी और बीएसपी ने सभी 182 सीटों पर उम्मीदवार उतारे थे।

चुनावी साल- उम्मीदवारों की संख्या
1962- 500
1967 – 599
1972 – 852
1975 – 834
1980 – 974
1985 – 1137
1990 -1889
1995 – 2545
1998 – 1125
2002 – 963
2007 – 1180
2012 – 1666

Source:-http://m.punjabkesari.in/national/news/gujarat-assembly-election-2017–bjp–congress-699290

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here