सिंगर नहीं गैंगस्टर थी हर्षिता, बदला लेने के लिए हुई थी गैंग में शामिल: पुलिस

    0
    106

    सतेंदर चौहान [Edited by: परवेज़ सागर]

    चंडीगढ़, 20 अक्टूबर 2017, अपडेटेड 23:15 IST

    हरियाणवी सिंगर हर्षिता दहिया हत्याकांड में एक नया खुलासा हुआ है. सूत्रों के मुताबिक हर्षिता मां की हत्या और खुद के साथ हुए रेप का बदला लेना चाहती थी. जिसके लिए वह कुख्यात गैंगस्टर रविंद्र पुगथला के गैंग में शामिल हो गई थी. अपनी जान के खतरे को देखते हुए वह रवींद्र पुगथला के गुर्गे शक्ति के साथ रहने लगी थी. 2 मई 2016 को सोनीपत सीआईए की टीम ने हर्षिता और उसके दो साथियों को हथियारों सहित गिरफ्तार किया था.

    सोनीपत पुलिस के सीआईए स्टाफ के इंस्पेक्टर ने इस बात की तस्दीक की है. इंस्पेक्टर इंदीवर के मुताबिक मई 2016 में रविंद्र पुगथला को सोनीपत के कामी रोड पर गिरफ्तार करने गई पुलिस टीम के साथ हर्षिता दहिया और उसके साथियों ने की मुठभेड़ हुई थी. बाद में हर्षिता और उसके दो साथियों को पुलिस देसी पिस्तौल के साथ गिरफ्तार कर लिया था. तब हर्षिता के पास से अवैध हथियार बरामद हुए थे.

    पुलिस पर फायरिंग करने के मामले में हर्षिता ने नाबालिग होने का प्रमाणपत्र कोर्ट में पेश किया था. जिसकी वजह से उसे जमानत मिल गई थी. इस मामले में अब तक वह जमानत पर ही चल रही थी. उसका साथी शक्ति अभी भी जेल में बंद है.

    हालांकि उस घटना के बाद सोनीपत सीआईए और एसआईटी की टीम ने गैंगस्टर रविंदर पुगथला को 10 फरवरी, 2017 को एक एनकाउंटर में मार गिराया था. उसके खिलाफ पुलिस के पास हत्या, लूट और अवैध वसूली जैसे कई संगीन मामले दर्ज हैं.

    बताते चलें कि शुक्रवार को ही पुलिस ने हरियाणा की जानी-पहचानी लोक गायिका हर्षिता दहिया के कत्ल की गुत्थी सुलझाने का दावा किया. पुलिस के मुताबिक हर्षिता का कत्ल किसी और ने नहीं बल्कि तिहाड़ जेल में बंद उसके जीजा दिनेश ने ही कराया था. हरियाणा पुलिस ने चार दिन की कस्टड़ी में लेकर जब दिनेश से पूछताछ की, तो उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया.

    हरियाणा और दिल्ली में अपनी अदाओं के जलवे बिखेरने वाली हर्षिता दहिया को पानीपत में हुए एक शानदार कार्यक्रम के बाद क़ातिलों की गोलियों ने अचानक छलनी कर दिया था. बीते मंगलवार को एक प्रोग्राम के बाद जब वह अपनी कार में तीन साथियों के साथ पानीपत से दिल्ली के लिए निकली ही थी कि पानीपत-रोहतक रोड पर एक गांव के नज़दीक पीछे से आई एक कार ने लोक गायिका हर्षिता दाहिया की कार को ओवरटेक कर रुकवाया और कार से बाकी के तीन लोगों को नीचे उतार कर क़रीब से हर्षिता को चार गोलियां मारी गई थीं.

    source:- Aajtak.com

     

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here